ठंड का कहर! Jammu & Kashmir का हुआ बुरा हाल, ठंड के कारण जम गईं नदी और झीलें

Jammu & Kashmir News: हमेशा हर साल की तरह इस साल भी ठंड का कहर देखने को मिल रहा है अगर बात की जाये Jammu and Kashmir Weather की तो इस साल वह का तापमान लगभग -6 डिग्री से भी निचे जा चूका है जिसकी वजह से आज के समय भी Jammu & Kashmir में नदी, तालाब और झरने सब कुछ पूरी तरह से जम चूका है।

जानकारों से मिली जानकारी से ऐसा पता चला है की मौसम कार्यालय ने मंगलवार को यह जानकारी दी की सोमवार को रात के समय में श्रीनगर का तापमान शून्य से भी निचे 4.8 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, जिसकी वजह से आज के समय में पूरा Jammu & Kashmir बर्फ की चादर में ढाका हुआ है।

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

Jammu & Kashmir का तापमान -6 डिग्री से भी निचे

यह एक ऐसा समय में जहा पर जम्मूकश्मीर को किसी जन्नत से कम भी नहीं माना जाता है, अगर इस समय वह के तापमान को देखा जाये तो वह -6 डिग्री से भी निचे देखने मिल रहा है। वह पर रहने वाले लोकल निवासिओं को काफी ज्यादा कठनाईओ का सामना करना पड़ता है, हाउसबोट में रहने वाले निवासियों को अपनी नावों को किनारे ठंड की वजह से जमी नदी की बर्फ को पहेले तोड़ना पड़ता है फिर जाकर काफी वह अपनी नावों को किनारे तक लपाते है।

साथ ही इतनी ज्यादा ठंड होने के कारण इलाकों में आने वाले पानी की पाइप लाइन भी पूरी तरह से जम जाती है जिसे कारण लोकल निवासी को पानी की भी काफी ज्यादा परेशानी हुई करती है, और बर्फ को गर्म करके पानी बनाकर इस्तेमाल करने के आलावा दूसरा कोई और रास्ता नहीं होता है।

Jammu and Kashmir Weather

आगे आने वाले समय में कैसा रहेगा मौसम?

मौसम विभाग से मिली जानकारी से ऐसा पता चला है की मौजूद मैदानी इलाकों में बर्फबारी नहीं हुई है, ऐसा बताया जा रहा है की उत्तरी कश्मीर के गुलमर्ग स्कीइंग रिसॉर्ट में तापमान 0 से 4 डिग्री, काजीगुंड में 4.4 डिग्री और कुपवाड़ा में 4.6 डिग्री सेल्सियस देखा गया है। साथ बताय की कश्मीर में लंबे वक्त से मौसम स्थिर बना हुआ है और साथ आने वाले छह दिनों में भी बारिश का कोई भी अन्देशा देखने को नहीं मिला है।

दिसंबर में बारिश 79 फीसदी की कमी हुई है, घाटी के ऊपरी इलाकों में दिसंबर के अंत तक सामान्य से कम बर्फबारी दर्ज की गई है अधिकारियों ने बताया कि आसमान साफ रहने की वजह से SriNagar सहित ज्यादातर हिस्सों में न्यूनतम तापमान में गिरावट देखि गई है।

यह जरूर पढ़ें :

 

 

 

Telegram channel
Whatsapp Channel

Leave a Comment