Elvish Yadav को कोटा पुलिस ने हिरासत में लिया, फ्यूचर में हो सकती है जेल जाने पूरा सच

Snake venom Elvish Yadav: जिस तरह से Bigg Boss OTT2 के विनर पर साँप की तस्करी के आरोप लगाया जा रहा है लेकिन इस बात को खुद एल्विष यादव ने अपना स्टेटमेंट दे दिया है लेकिन अब उनको राजस्थान की कोटा पुलिस ने नाकाबंदी पर एल्विश की गाड़ी को रोका नाकाबंदी के दौरान उनकी गाड़ी की तलाशी ली और 20 मिनट तक पूछताछ की उसके बाद उनको जाने दिया एल्विश मुंबई के लिए रवाना हो गए नोएडा पुलिस ने उन पर रेव पार्टी के मामले में FIR दर्ज कर दी गई है जिस तरह से न्यूज़ चैनल वालो ने रामगंज थाने के SHO ने गिरफ्तारी पर मना कर दिया एल्विश के राजस्थान आने की खबर को DGP उमेश मिश्र ने नोएडा पुलिस को सूचित किया।

क्या पुलिस ने Elvish Yadav को गिरफ्तार किया

शनिवार के दिन एल्विश मुम्बई से शूटिंग को खत्म करके अपने इवेंट के लिए राजस्थान में कोटा में पहुंचे थे कोटा जिले में पुलिस की नाकाबंदी लगी हुई थी तो उसी दौरान पुलिस ने एक गाड़ी को रखवा लिया जब पुलिस ने उस कार में देखा तो एल्विष यादव सवार थे उसके बाद उन्हें हिरासत में ले लिया और इसकी जानकारी नोएडा पुलिस को बताई तो पुलिस ने एल्विष के मुकदमे में वॉन्टेड होने से साफ मना कर दिया तो कोटा पुलिस ने उनको जाने की अनुमति दे दी क्योंकि 3 नवंबर को रेव पार्टी करने के मामले में उसमे साँप के जहर का यूज़ के लिए नोएडा पुलिस ने उन पर करवाई कर दी और इस बात के मुख्य पाँच आरोपी को गिरफ्तार कर लिया।

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

नोएडा पुलिस ने दर्ज क्या मामला

क्या एल्विष यादव को गिरफ्तार किया गया है जैसा कि यह खबर Elvish के fans दावा कर रहे है कि ये पूरी तरह से fake है इस बात की सही इन्फॉर्मेशन दे सकता है तो वो है राजस्थान पुलिस क्योंकि एल्विष की कुछ फोटो सामने नजर आ रही है इस खबर को सभी TV पर तमाम न्यूज़ अखबारों में छापा की कोटा पुलिस ने एल्विश यादव को हिरासत में लिया गया है उसके बाद जानकारी मिली कि उनको छोड़ दिया गया फिर खबर आई कि उनको गिरफ्तार में नहीं लिया गया था उनको हिरासत में लिया था लेकिन पुलिस के ओफ्फिशल स्टेटमेंट सामने आया की राजस्थान पुलिस ने एक गाड़ी को रोका जिसमे चार लोग सवार थे।

पुलिस ने सवाल जवाब किए तो उसमें पता चला कि एल्विश यादव है क्योंकि लगातार नोएडा से खबरे सामने आ रही थी की उनको ढूढ़ रही है लेकिन फिर उनसे बातचीत की गई लेकिन राजस्थान पुलिस ने नोएडा पुलिस को हैंड ऑवर कर दे तो उन्होंने मना कर दिया कहा कि अगर कोई इन्फॉर्मेशन मिलती है तो हम उनको गिरफ्तार करेगे यह सब लोग बृहस्पतिवार को सेक्टर-51 के एक बैंक्वेट हॉल में रेव पार्टी के लिए एक साथ मिले थे यह पार्टी पशु अधिकार संगठन पीपल फॉर एनिमल्स (पीएफए) द्वारा बिछाया गया जाल था।

Telegram channel
Whatsapp Channel

Leave a Comment